कोरोना काल के बाद साईं संस्थान को मिला 32 करोड का दान।

0

कोरोना काल के बाद साईं संस्थान को मिला 32 करोड का दान।

कोरोना काल के बाद शिर्डी के साईं बाबा के मंदिर 16 नवंबर के बाद खुल चुके हैं। 71 दिनों में साईं बाबा के करीब 12 लाख 2 हजार भाविको को ने दर्शन ले लिए है। इन 71 दिनों में साईं बाबा मंदिर ट्रस्ट के पास 32 करोड 3 लाख की राशि भी प्राप्त हो चुकी है। ऐसी जानकारी साईं बाबा मंदिर समिति की ओर से दी गई है। लॉक डाउन खत्म होने के बाद शिरडी देवस्थान, पंढरपुर, जेजुरी ऐसे तीर्थ स्थानों पर ज्यादातर लोग दर्शन के लिए जा रहे हैं।

शिर्डी के साईं बाबा के साथ-साथ लोग दर्शन के लिए हरिशचंद्रगड़ ,तुलजा भवानी मंदिर, कोल्हापुर की महालक्ष्मी मंदिर में भी ज्यादातर लोग जा रहे हैं। पिछले कुछ दिनों से छुट्टियां होने के कारण लोग तीर्थ स्थानों पर आ रहे हैं। क्रिसमस की छुट्टियों के कारण साईं मंदिर में काफी भीड़ थी। लोगों ने साई चरण में ढेर सारा दान किया है।

साईं बाबा मंदिर में करीबन नकद दान 6 करोड़ 18 लाख 70 हजार रुपए दिया है। मनी ऑर्डर के रूप में ₹50 लाख 71 हजार का दान आ चुका है। ऑनलाइन दान में 6 करोड़ 39 लाख रुपए दान आ चुका है। डेबिट और क्रेडिट कार्ड द्वारा 2 करोड़ 62 लाख का दान आ चुका है। चेक और डिमांड ड्राफ्ट से करीबन 3 करोड 50 हजार रुपए का दान साईं बाबा मंदिर ट्रस्ट को मिला है। विदेशी मुद्रा में करीबन 22 लाख 7 हजार रुपये का दान आ चुका है। दान पेटी में करीबन 13 करोड 4 लाख रुपये का दान लोगों ने दिया है। यानी कुल साईं बाबा मंदिर ट्रस्ट को 32 करोड़ 3 लाख रुपये का दान आ चुका है।

साईं बाबा के भक्त भारत में ही नहीं बल्कि विदेशों में भी है। लोग पैदल चलकर साईं बाबा का दर्शन के लिए आते हैं। साईं बाबा के चरण करीबन 800 ग्राम सोना और 12 किलो चांदी का भी दान आ चुका है।

तुलजाभवानी माता मंदिर में पास की संख्या बढ़ा दी है। कोरोना संकट की वजह से मंदिर संस्थान की तरफ से हर रोज 12000 पास जारी किए जा रहे थे। अभी फिलहाल भक्तों की भीड़ को देखते हुए निशुल्क पास की संख्या बढ़ा दी गई है।

तुलजा भवानी माता के मंदिर में मंगलवार, शुक्रवार और रविवार को ज्यादातर भीड़ रहती है। इन दिनों में और त्योहारों एवं समारोह में करीबन हर दिन 30,000 मुक्त पास दिए जाएंगे। इन 3 दिनों के अलावा अन्य जिलों में भी 20,000 भक्तों को पास दिए जाते हैं।

भक्तो को पेड़ पास के लिए अब से ₹200 देने पड़ेंगे। तुलजा भवानी मंदिर समिति की तरफ से यह ₹300 से घटाकर ₹200 कर दी गई है। कोरोना संकट होने के कारण तुलजा भवानी मंदिर के परिसर में उपयुक्त उपाय योजना का पालन किया जा रहा है। ऐसा मदिर समिति की और से बताया गया है।

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here