भारत-इंग्लैंड मैच बिना दर्शकों के होंगे, भारत की टीम इस दिन होगी चेन्नई रवाना।

0

भारत-इंग्लैंड मैच बिना दर्शकों के होंगे, भारत की टीम इस दिन होगी चेन्नई रवाना।

भारत और इंग्लैंड के दरमियान होने वाला टेस्ट मैच बिना दर्शकों के खेला जाएगा। भारत और इंग्लैंड के दरमियान यह मुकाबला 5 जनवरी को चेन्नई में चिन्नास्वामी स्टेडियम पर होने वाला है। इस मैच के बारे में ताजा जानकारी तमिलनाडु के क्रिकेट एसोसिएशन के सचिव आर यस रामास्वामी ने दी है। आर एस रामास्वामी ने कहा है कि कोरोना के संकट के बाद पहली बार भारत में टेस्ट मैच खेला जाने वाला है। हमने 50% दर्शक स्टेडियम पर मैच देखेंगे ऐसा विचार किया गया था। पर कोरोना का संकट अभी तक खत्म नहीं हुआ है इसलिए यह भारत-इंग्लैंड टेस्ट मैच बिना दर्शकों के खेला जाएगा इसका फैसला लिया गया है।

भारत में मार्च 2020 से क्रिकेट खेलना बंद किया है और 10 महीने से प्रशंसक मैदान से दूर है। कोरोना की वजह से आईपीएल का तेरावा सीजन यूएई में लेना था। हिंदुस्तानी दर्शकों को लगा कि इंग्लैंड की टीम भारत आएगी तब वह मैदान पर क्रिकेट देख पाएंगे। लेकिन तमिलनाडु क्रिकेट एसोसिएशन ने यह बिना दर्शकों के पहले दो टेस्ट मैच आयोजित करने का फैसला लिया है।

हाल ही में ऑस्ट्रेलिया दौरा खत्म करके भारतीय टीम भारत आ चुकी है। भारत के दर्शकों को इंडिया- इंग्लैंड मैच देखने के लिए उत्सुकता जगी है। फरवरी महीने में इंग्लैंड की टीम चेन्नई आएगी। भारत की टीम 27 जनवरी को चेन्नई पहुंचेगी। मैच से पहले भारतीय क्रिकेट टीम चिन्नास्वामी स्टेडियम पर अभ्यास करेंगे।

भारतीय खिलाड़ी अलग-अलग शहरों से चेन्नई के लिए रवाना होंगे। 27 जनवरी को वह चेन्नई में पहुंचेंगे। भारत की टीम 1 सप्ताह के लिए एकांत में रहेगी।

इंग्लैंड की टीम 27 जनवरी को चेन्नई पहुंचेगी। श्रीलंका के खिलाफ खेला जाने वाला दूसरा और अंतिम टेस्ट 26 फरवरी 2021 को समाप्त होगा।

भारत और इंग्लैंड की टीम चेन्नई में लीला पैलेस में मैच अधिकारियों के साथ होंगे। भारत और इंग्लैंड टेस्ट सीरीज 5 फरवरी और 12 फरवरी को 2 टेस्ट मैच खेले जाएंगे। बाकी के मैं अहमदाबाद के मोटेरा मैदान में खेले जाएंगे।

टीएनसीच सचिव राधास्वामी ने कहा है कि चेन्नई में कोरोना का संकट कायम है। इसलिए यह पहले दो टेस्ट मैच में दर्शकों को प्रवेश नहीं मिलेगा। भारतीय क्रिकेट नियामक मंडल बीसीसीआई की सूचना के अनुसार यह निर्णय लिया गया। बीसीसीआई ने भारतीय और इंग्लैंड की टीम की सुरक्षितता की वजह से यह कोई जोखिम नहीं लेने का फैसला लिया गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here